किसानों का Digital अड्डा

किसानों के लिए कैसे बहुत उपयोगी है किसान क्रेडिट कार्ड? महज 4% ब्याज़ पर कर्ज़ की सुविधा

अभी तक बमुश्किल 1.5 करोड़ किसानों को ही बेहद रियायती और अति लाभकारी किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ा जा सका है

किसानों को सूदखोरों के शोषणकारी चंगुल से निकालने के लिए 1998 में किसान क्रेडिट कार्ड की योजना बनायी गयी थी। लेकिन अभी तक बमुश्किल 1.5 करोड़ किसानों को ही बेहद रियायती और अति लाभकारी किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ा जा सका। लिहाज़ा, यदि आप किसान हैं और आपने अभी तक किसान क्रेडिट कार्ड नहीं बनवाया है तो आपको जल्द से जल्द इसे बनवा लेना चाहिए। इस योजना के तहत किसानों को बैंक से आसानी से तीन लाख रुपये तक का कर्ज़ बेहद रियायती शर्तों पर मिल सकता है।

केन्द्र सरकार ने हाल ही में उन सभी लोगों को किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) बनवाने के लिए सुयोग्य बना बना दिया है, जिन्हें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत मासिक 500 रुपये या सालाना 6,000 रुपये की सहायता राशि मिल रही है। किसान सम्मान निधि के 11.44 करोड़ लाभार्थियों की ज़मीन का रिकॉर्ड और बायोमिट्रिक डेटा सरकार के पास है। इनमें से ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा से जोड़ने के लिए 31 मार्च 2021 तक विशेष अभियान भी चलाया गया।

किसानों को सूदखोरों के शोषणकारी चंगुल से निकालने के लिए 1998 में किसान क्रेडिट कार्ड की योजना बनायी गयी थी। लेकिन अभी तक बमुश्किल 1.5 करोड़ किसानों को ही बेहद रियायती और अति लाभकारी किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ा जा सका। लिहाज़ा, यदि आप किसान हैं और आपने अभी तक किसान क्रेडिट कार्ड नहीं बनवाया है तो आपको जल्द से जल्द इसे बनवा लेना चाहिए। इस योजना के तहत किसानों को बैंक से आसानी से तीन लाख रुपये तक का कर्ज़ बेहद रियायती शर्तों पर मिल सकता है। KCC को 5 साल तक के लिए जारी किया जाता है। इसके बाद इसे रिन्यू किया जाता है।

1.5 करोड़ किसानों को ही बेहद रियायती और अति लाभकारी किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ा

किसान क्रेडिट कार्ड का लाभार्थी कौन?

  • खेती-किसानी के दायरे में आने वाले किसी भी किस्म के किसान को किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ मिल सकता है।
  • बैंकों को हिदायत है कि वो प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं लेने वाले किसानों को भी सिर्फ़ तीन दस्तावेज़ों के आधार पर किसान क्रेडिट कार्ड जारी करें। ये हैं — इनकम प्रूफ (आय का प्रमाण), पहचान का प्रमाण और हलफ़नामा कि उस पर किसी बैंक का कोई कर्ज़ बकाया नहीं है। पहचान के प्रमाण के लिए वोटर कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस में से किसी एक की कॉपी देनी होती है।
  • कृषि, मछलीपालन और पशुपालन से जुड़ा किसान यदि किसी और की ज़मीन पर खेती करता हो तो भी किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ ले सकता है।
  • किसान क्रेडिट कार्ड के लाभार्थी की उम्र 18 से 75 साल के बीच होनी चाहिए। हालाँकि, 60 साल से अधिक उम्र के किसानों को एक ऐसे सह-आवेदक की ज़रूरत होती है, जो 60 साल से कम उम्र का हो।

कैसे बनवाएँ किसान क्रेडिट कार्ड?

  • ऑनलाइन आवेदन के लिए सरकार ने KCC के आवेदन के लिए बहुत ही सरल फ़ॉर्म जारी किया है। इसे gov.in से भी डाउनलोड कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन के अलावा किसी भी कोऑपरेटिव बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया और आईडीबीआई बैंक या नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) में किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदन करने के 15 दिनों के भीतर किसान क्रेडिट कार्ड जारी करने की मियाद सरकार ने तय की है। अगर इस दौरान KCC जारी नहीं हो बैंकिंग लोकपाल के अलावा भारतीय रिज़र्व बैंक की वेबसाइट https://cms.rbi.org.in/, किसान क्रेडिट कार्ड हेल्पलाइन नंबर 0120-6025109 / 155261 और [email protected] के ज़रिये हेल्प डेस्क से भी पर भी शिकायत कर सकते हैं।
  • किसान क्रेडिट कार्ड पर लिये जाने वाले 3 लाख रुपये तक के कर्ज़ पर कोई सेवा शुल्क नहीं देना पड़ता।
  • KCC के साथ मुफ़्त एटीएम सह डेबिट कार्ड भी दिया जाता है।
किसान क्रेडिट कार्ड के तहत 3 लाख रुपये तक के कर्ज़ पर सिर्फ़ 7 फ़ीसदी ब्याज़

कैसे मददगार है किसान क्रेडिट कार्ड?

  • किसान क्रेडिट कार्ड के तहत 3 लाख रुपये तक के कर्ज़ पर सिर्फ़ 7 फ़ीसदी ब्याज़ देना पड़ता है। लेकिन यदि कर्ज़ को समय पर लौटाया जाए तो किसान को 3% की रियायत मिलती है। इस तरह, किसानों को महज 4 फ़ीसदी ब्याज़ की दर पर सहूलियत से कर्ज़ उपलब्ध करवाने की सुविधा ही किसान क्रेडिट कार्ड की सबसे बड़ी ख़ासियत है।
  • KCC के ज़रिये कर्ज़ लेने वाले किसानों को फसल बीमा योजना की सुविधा भी मिलती है।
  • पहले साल के लिए लोन की मात्रा कृषि लागत, फसल के बाद के खर्च और जमीन की लागत के आधार पर तय की जाती है।
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.