किसानों का Digital अड्डा

आवास योजना: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना, 2022 तक सब के पास हो “अपना घर”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार 15 अगस्त 2022 तक देश के हर नागरिक को पक्का मकान दिलाएगी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ये बात अहमदाबाद में एक ओवरब्रिज के वर्चुअल उद्घाटन के दौरान कही।

अमित शाह ने बताया कि बीजेपी सरकार जिस तरह से ग्रामीण और शहरी इलाकों में आवास परियोजनाएं चला रही है, उससे उम्मीद है कि 15 अगस्त 2022 तक देश में सभी के पास घर होगा। उन्होंने दावा किया है कि मोदी सरकार ने 10 करोड़ से भी ज्यादा किफायती घर लोगों को मुहैया कराया है।

ये भी देखें : PM स्वामित्व योजना के तहत किसानों को जमीन के प्रमाण पत्र मिलने के साथ ही होंगे कई सारे लाभ

ये भी देखें : भारत सरकार दे रही है किसानों को 6 हजार रुपए, करना होगा ये छोटा सा काम

सरकार के कामों के बारे बताते हुए शाह ने कहा, उज्‍जवला योजना के तहत 13 करोड़ से ज्यादा गरीब परिवारों को गैस सिलेंडर उपलब्ध कराए गए। मोदी सरकार ने देश के सभी गांवों में बिजली पहुंचाई है। 2022 तक देश के हर घर में पानी की कनेक्टिविटी देने की दिशा में काम कर रहे हैं।

ये भी देखें : रबी फसलों के बीज की बिक्री शुरू, जानिए कब और कहां से किस दाम पर करें खरीदारी

ये भी देखें : Solar Pump Scheme के तहत किसानों को 7 साल के लिए मिलेगा लोन, जानें लाभ उठाने के तरीके

अमित शाह ने अहमदाबाद के थलतेज- शिलज इलाके में रेलवे ट्रैक पर ओवरब्रिज का वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से उद्घाटन किया। इस दौरान गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ओवरब्रिज स्थल पर मौजूद थे।

इस मौके पर शाह ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के करीब एक लाख रेलवे क्रॉसिंग को समाप्त करने का फैसला किया है। इसलिए सभी रेलवे क्रासिंग पर ओवर ब्रिज या अंडरपास का निर्माण कराया जाएगा। इसमें केंद्र और राज्य सरकार , दोनों की 50-50% की हिस्सेदारी होगी।”

शाह ने बताया कि मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग को खत्म करने का फैसला भी किया गया है। 2022 तक देश में एक भी मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग नहीं होगी।

Kisan Of India Instagram

सम्पर्क सूत्र: किसान साथी यदि खेती-किसानी से जुड़ी जानकारी या अनुभव हमारे साथ साझा करना चाहें तो हमें फ़ोन नम्बर 9599273766 पर कॉल करके या [email protected] पर ईमेल लिखकर या फिर अपनी बात को रिकॉर्ड करके हमें भेज सकते हैं। किसान ऑफ़ इंडिया के ज़रिये हम आपकी बात लोगों तक पहुँचाएँगे, क्योंकि हम मानते हैं कि किसान उन्नत तो देश ख़ुशहाल।
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.