किसानों का Digital अड्डा

ASC2023: 16वें कृषि विज्ञान कांग्रेस का होने जा रहा है आयोजन, जानिए कहां करें रजिस्ट्रेशन

इस बार क्या है 16वें कृषि विज्ञान कांग्रेस की थीम और क्या है ख़ास?

कृषि विज्ञान कांग्रेस का लक्ष्य दुनिया भर के प्रमुख शिक्षाविदों, शोधकर्ताओं, छात्रों, किसानों, उद्यमियों जैसे वर्गों को एक साथ लाना है। ताकि वो कृषि-खाद्य प्रणालियों के सभी विषयों पर अपने शोध निष्कर्षों, विचारों और अनुभवों का एक दूसरे के साथ साझा कर सकें।

16वां कृषि विज्ञान कांग्रेस (ASC) 10 से 13 अक्टूबर 2023 तक कोची में आयोजित होगा। राष्ट्रीय कृषि विज्ञान अकादमी (National Academy of Agricultural Sciences), नई दिल्ली की ओर से ये कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसकी मेज़बानी भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद्-केंद्रीय समुद्री मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थान (ICAR-CMFRI) करेगा। इस बार कृषि विज्ञान कांग्रेस की थीम “सतत विकास लक्ष्यों (SDG) को प्राप्त करने के लिए कृषि-खाद्य प्रणालियों का परिवर्तन” पर केंद्रित है।

Kisan of India Youtube

कृषि विज्ञान कांग्रेस का क्या है लक्ष्य?

कृषि विज्ञान कांग्रेस का लक्ष्य दुनिया भर के प्रमुख शिक्षाविदों, शोधकर्ताओं, छात्रों, किसानों, उद्यमियों जैसे वर्गों को एक साथ लाना है। ताकि वो कृषि-खाद्य प्रणालियों के सभी विषयों पर अपने शोध निष्कर्षों, विचारों और अनुभवों का एक दूसरे के साथ साझा कर सकें।

इन्हीं सभी बातों को ध्यान में रखते हुए कृषि विज्ञान कांग्रेस में प्रतिनिधियों और प्रतिभागियों को कृषि और उससे जुड़े सभी विषयों के मुद्दों जैसे भूमि और पानी की स्थिरता, कृषि उत्पादन प्रणालियों, उत्पादों, कृषि मशीनरी, अर्थशास्त्र, नवीकरणीय और वैकल्पिक ऊर्जा, प्रिसिजन फार्मिंग, वैकल्पिक खेती प्रणाली, तटीय कृषि, आने वाली पीढ़ियों में प्रौद्योगिकियां जैसे विषयों पर अपने विचारों को रखने के लिए पर्याप्त अवसर दिया जाएगा।

इन विषयों पर होगी मुख्य चर्चा:

  • खाद्य एवं पोषण सुरक्षा सुनिश्चित करना: उत्पादन, उपभोग और मूल्यवर्धन
  • टिकाऊ कृषि-खाद्य प्रणालियों के लिए जलवायु कार्रवाई
  • सीमांत विज्ञान और उभरती आनुवंशिक प्रौद्योगिकियाँ: जीनोम प्रजनन, जीन संपादन
  • खाद्य प्रणालियों का पशुधन आधारित परिवर्तन
  • खाद्य प्रणालियों का बागवानी आधारित परिवर्तन
  • जलीय कृषि एवं मत्स्य पालन आधारित खाद्य प्रणालियों का परिवर्तन
  • सतत कृषि-खाद्य प्रणालियों के लिए प्रकृति-आधारित समाधान
  • अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकियाँ: डिजिटल कृषि, सटीक खेती और एआई-आधारित प्रणालियाँ
  • कृषि-खाद्य प्रणालियों को बदलने के लिए नीतियां और संस्थान
  • अनुसंधान, शिक्षा और विकास के लिए अंतर्राष्ट्रीय भागीदारी

किन-किन सत्रों का होगा आयोजन?

16वें कृषि विज्ञान कांग्रेस में कई तरह के सत्रों का आयोजन किया जाएगा। वरिष्ठ वैज्ञानिकों की ओर से कई विषयों के बारे में जानकारी, विषयगत क्षेत्रों पर तकनीकी सत्र, तटीय कृषि: आजीविका और स्थिरता, मोटे अनाज को मुख्यधारा में लाना, सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए कृषि का पुन: उपयोग करना जैसे विषयों पर सेमीनार और कृषि-खाद्य प्रणालियों को बदलने में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, सूचना प्रसार में नवाचार, पोषण और स्थिरता बढ़ाने के लिए कृषि प्रणालियों जैसे विषय पर पैनल चर्चा के साथ-साथ पोस्टर प्रस्तुतियां, किसानों और उद्योग के साथ बातचीत, कृषि प्रदर्शनियां आदि शामिल होंगी।

प्रत्येक सत्र में एक मुख्य वक्ता, तीन आमंत्रित वक्ता और एक युवा वैज्ञानिक या मेधावी शोधार्थी रहेगा। इस तरह से लगभग 160 वक्ताओं की ओर से खेती और इससे जुड़े क्षेत्रों में पर जानकारी दी जाएगी। इस कार्यक्रम में भारत और विदेश से 1500 से अधिक प्रतिनिधियों, किसानों और स्थानीय जनता के शामिल होने की उम्मीद है।साथ ही कृषि से संबंधित सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के अनुसंधान संस्थानों, विश्वविद्यालयों, कृषि-उद्योगों, प्रसार एजेंसियों और गैर सरकारी संगठनों की तरफ से नवीन कृषि प्रौद्योगिकियों का प्रदर्शन भी किया जाएगा।

इस कार्यक्रम में केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालयों और राज्य कृषि विश्वविद्यालयों के छात्र और छात्राएं भाषण प्रतियोगिताओं (Debate Competiiton) भाग ले सकते हैं। 16वें कृषि विज्ञान कांग्रेस में शामिल होने के लिए आधिकारिक वेबसाइट www.16asc2023.in पर जा कर पंजीकरण करना होगा।

Kisan Of India Instagram

सम्पर्क सूत्र: किसान साथी यदि खेती-किसानी से जुड़ी जानकारी या अनुभव हमारे साथ साझा करना चाहें तो हमें फ़ोन नम्बर 9599273766 पर कॉल करके या [email protected] पर ईमेल लिखकर या फिर अपनी बात को रिकॉर्ड करके हमें भेज सकते हैं। किसान ऑफ़ इंडिया के ज़रिये हम आपकी बात लोगों तक पहुँचाएँगे, क्योंकि हम मानते हैं कि किसान उन्नत तो देश ख़ुशहाल।
मंडी भाव की जानकारी

ये भी पढ़ें:

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.