किसानों का Digital अड्डा

Chhattisgarh Budget 2024: किसानों को नई योजनाओं की मिली सौगात, यहां खुलेंगे कृषि कॉलेज

Chhattisgarh Budget में बजट में 13 हज़ार 438 करोड़ रुपयों की व्यवस्था

Chhattisgarh budget में सहकारी और ग्रामीण बैंकों से ब्याज मुक्त ऋण दिलाने के लिए 8 हज़ार 500 करोड़ रुपए की सीमा तय की गई है। वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने सदन के अपने भाषण में बताया कि सिंचाई के रकबे को बढ़ाने के लिए नई सिंचाई परियोजनाओं के लिए 300 करोड़ रुपए की राशि तय की गई है।

छत्तीसगढ़ सरकार ने 9 फरवरी 2024 वित्तीय साल का बजट पेश किया। बजट राज्य के वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने पेश किया। राज्य के बजट में मंत्री चौधरी ने 1,47,446 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। Chhattisgarh budget में कृषि के लिए 33 फ़ीसदी की बढ़ोतरी की गई है।

आइए नज़र डालते हैं कि इस बजट में किसानों को क्या मिला और क्या रहा उनके लिए ख़ास।

KisanOfIndia Youtube

Chhattisgarh budget से किसानों को क्या मिला नया?

  • वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने सदन में कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में किसानों और भूमिहीन कृषि मजदूरों की स्थिति में सुधार के लिए कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन और मछली पालन को प्रोत्साहन की सरकार कोशिशें करेगी।
  • छत्तीसगढ़ राज्य ने अपने किसानों के लिए बजट में 13 हज़ार 438 करोड़ रुपयों की व्यवस्था की है।
  • कृषि उन्नति योजना के लिए 10 हज़ार करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया  है।
  • किसानों को सहकारी और ग्रामीण बैंकों से ब्याज मुक्त  ऋण दिलाने के लिए 8 हज़ार 500 करोड़ रुपए की सीमा तय की गई  है। इस अमाउंट पर ब्याज सब्सिडी के लिए 317 करोड़ रुपए तय किया गए हैं।
  • प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत गांव सरेंगा कोरहा में एक्वा पार्क खोला जाएगा। इसके लिए सरकार ने 5 कोरड़ रुपए की व्यवस्था की है।
  • खेती में आधुनिक Equipment को बढ़ावा देने के लिए कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय की स्थापना करने और  राज्य स्तर के नए कृषि यंत्र परीक्षण के लिए लैब बनवाने के लिए भी प्रावधान किया गया है।
  • दुर्ग और सरगुजा जिले में कृषि यंत्री ऑफिस खोला जाएंगे।
  • कृषि में इस्तेमाल होने वाले  रासायनिक उर्वरकों की जांच के लिए सरगुजा ज़िले में गुणवत्ता कंट्रोल लैब खोली जाएगी।
  • छत्तीसगढ़ के जशपुर में नई हेचरी खोली जाएगी। इसके लिए  एक करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

Chhattisgarh में कई जगह खुलेंगे कृषि कॉलेज

छत्तीसगढ़ के वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने अपने भाषण में बताया कि सिलफिली ज़िला सूरजपुर और रायगढ़ में शासकीय उद्यानिकी और वानिकी महाविद्यालय खुलेगा, इसके साथ ही जशपुर में कृषि व्यवसाय प्रबंधन महाविद्यालय  और अनुसंधान, रामचंद्र जिला बलरामपुर में पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट और प्रोसेसिंग टेक्नोलॉज महाविद्यालय और खड़गवां ज़िला मनेन्द्रगढ़, चिरमिर,भरतपुर में कृषि कॉलेज की स्थापना होगी।

Kisan Of India Facebook Page

उद्यान को बढ़ावा देने के लिए खोली जाएंगी नर्सरी

सदन में वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने बताया कि उद्यानिकी को बढ़ावा देने के लिए 14 ब्लॉक में नई नर्सरी खोली जाएंगी। साथ ही संचालित हो रही नर्सरी में नए पद बनाए जाएंगे।

kisan of india X twitter account

सिंचाई के लिए किसानों को बजट में क्या मिला?

वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने सदन के अपने भाषण में बताया कि सिंचाई के रकबे को बढ़ाने के लिए नई सिंचाई परियोजनाओं के लिए 300 करोड़ रुपए की राशि तय की गई है। लघु सिंचाई की चालू परियोजनाओं के लिए 692 करोड़ और नाबार्ड से चल रही सिंचाई परियोजनाओं के लिए 433 करोड़ रुपए और एनीकट और स्टॉपडेम बनाने के लिए 262 करोड़ रुपए की व्यवस्था सरकार ने इस साल के बजट में की है।

Kisan Of India Instagram

सहकारिता में क्या मिला?

किसानों के लिए  100 प्राथमिक सहकारी समितियों में खाद , बीज भंडारण और गोदाम निर्माण के लिए 26 करोड़ रुपए खर्च कि जाएंगे।

ये भी पढ़ें: Uttar Pradesh Budget 2024: यूपी बजट में कृषि के लिए क्या रहा ख़ास? जानिए घोषणाएं

सम्पर्क सूत्र: किसान साथी यदि खेती-किसानी से जुड़ी जानकारी या अनुभव हमारे साथ साझा करना चाहें तो हमें फ़ोन नम्बर 9599273766 पर कॉल करके या [email protected] पर ईमेल लिखकर या फिर अपनी बात को रिकॉर्ड करके हमें भेज सकते हैं। किसान ऑफ़ इंडिया के ज़रिये हम आपकी बात लोगों तक पहुँचाएँगे, क्योंकि हम मानते हैं कि किसान उन्नत तो देश ख़ुशहाल।
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.