किसानों का Digital अड्डा

वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. हिमांशु पाठक भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) के महानिदेशक नियुक्त

कई प्रतिष्ठित कृषि संस्थानों का कार्यभार संभाल चुके हैं डॉ. हिमांशु पाठक

मौजूदा समय में हिमांशु पाठक महाराष्ट्र के बारामती में ICAR-राष्ट्रीय अजैविक तनाव प्रबंधन संस्थान के निदेशक के रूप में कार्यरत हैं।

0

वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. हिमांशु पाठक को कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग (DARE) का सचिव और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) का महानिदेशक (डीजी) नियुक्त किया गया है। कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय (Ministry of Personnel, Public Grievances and Pensions) ने आदेश जारी कर इसकी जानकारी दी। मौजूदा समय में हिमांशु पाठक महाराष्ट्र के बारामती में आईसीएआर-राष्ट्रीय अजैविक तनाव प्रबंधन संस्थान के निदेशक के रूप में कार्यरत हैं।

इससे पहले डॉ. हिमांशु पाठक ICAR-केन्द्रीय चावल अनुसंधान संस्थान, कटक में बतौर निदेशक का कार्यभार भी संभाल चुके हैं। उन्होंने भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली में बतौर वैज्ञानिक 1992 से 2001, वरिष्ठ वैज्ञानिक 2001 से 06 तक कार्य किया। गंगा के मैदानों के लिए चावल-गेहूं संघ (आरडब्ल्यूसी), अंतर्राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान (IRRI), नई दिल्ली में 2006-09 तक  प्रधान वैज्ञानिक के तौर पर कार्यभार संभाला। इसके बाद 2009-16 तक भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के पर्यावरण विज्ञान विभाग में प्रोफेसर भी रहे। 

Ministry of Personnel, Public Grievances and Pensions की ओर से जारी हुए आदेश में कहा गया है कि मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने वरिष्ठ वैज्ञानिक हिमांशु पाठक को भारतीय कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग (डेयर) का सचिव और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) का महानिदेशक (डीजी) नियुक्त किया गया है और उनकी नियुक्ति पदभार ग्रहण करने की तारीख से 60 साल की आयु तक के लिए होगी।

आपको बता दें कि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर), कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग (डीएआरई), कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संगठन है। ये संगठन पूरे देश में बागवानी, मत्स्य पालन और पशु विज्ञान समेत कृषि में अनुसंधान और शिक्षा के समन्वय, मार्गदर्शन और प्रबंधन का शीर्ष निकाय है। 

सम्पर्क सूत्र: किसान साथी यदि खेती-किसानी से जुड़ी जानकारी या अनुभव हमारे साथ साझा करना चाहें तो हमें फ़ोन नम्बर 9599273766 पर कॉल करके या kisanofindia.mail@gmail.com पर ईमेल लिखकर या फिर अपनी बात को रिकॉर्ड करके हमें भेज सकते हैं। किसान ऑफ़ इंडिया के ज़रिये हम आपकी बात लोगों तक पहुँचाएँगे, क्योंकि हम मानते हैं कि किसान उन्नत तो देश ख़ुशहाल।

 

ये भी पढ़ें:

 
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.