किसानों का Digital अड्डा

पावर टिलर (Power Tiller): खेती के कई कामों को आसान बनाता है ये कृषि उपकरण, खरीद पर मिलती है सब्सिडी

यह ट्रैक्टर की तुलना में हल्का और चलाने में भी आसान होता है

पावर टिलर (Power Tiller) ट्रैक्टर से सस्ता होता है और साइज़ में छोटा होने के कारण पहाड़ी इलाकों में भी आसानी से पहुंच सकता है। सरकार की ओर से पावर टिलर की खरीद पर सब्सिडी का भी प्रावधान है। कहाँ से ले सकते हैं सब्सिडी? कितनी मिलती है सब्सिडी? जानिए इस लेख में।

0

समय के साथ अब खेती का तरीका भी आधुनिक होता जा रहा है। कृषि कार्यों को सुगम बनाने के लिए कई कृषि उपकरण बाजार में उपलब्ध हैं। इन्हीं में से एक है खेत की जुताई को आसान बनाने वाला कृषि उपकरण पावर टिलर (Power Tiller)। अच्छी फसल के लिए खेत की अच्छी जुताई ज़रूरी है और यह काम पावरटिलर बखूबी करता है। इसके अलावा, ये कई तरह के कृषि कार्यों में मदद करता है।

पावर टिलर क्या है?

खेती के लिए इस्तेमाल होने वाली यह मशीन खेत की जुताई से लेकर फसल की कटाई, बुवाई, भूमि समतल जैसे कार्य आसानी से कर सकती है। दरअसल, पावर टिलर में अन्य कृषि यंत्र जोड़कर कई दूसरे काम भी किए जाते हैं। यह ट्रैक्टर की तुलना में हल्का होता है और इसे चलाना भी आसान होता है। इसकी ख़ासियत है कि यह पेट्रोल और डीज़ल दोनों से चल सकता है। ट्रैक्टर की तुलना में इसमें ईंधन भी कम लगता है, जिससे खेती की लागत में कमी आती है। यह ट्रैक्टर से सस्ता होता है और साइज़ में छोटा होने के कारण पहाड़ी इलाकों में भी आसानी से पहुंच सकता है।

power tiller use and subsidy पॉवर टिलर सब्सिडी
तस्वीर साभार: indiamart

पावर टिलर के फ़ायदे

  • यह खेती और बागवानी के कई काम करता है।
  • खेतों में पडलिंग, सूखे खेत की जुताई, समतलीकरण करता है।
  • इसके साथ ही बुआई, रोपाई, कीटनाशकों का छिडक़ाव भी इससे किया जाता है।
  • निराई-गुड़ाई, खेत में पानी पंप करना, फसल की कटाई, फसल की ढुलाई जैसे काम भी इसकी मदद से किए जा सकते हैं।
  • अलग-अलग काम के लिए इसमें अलग-अलग कृषि उपकरण जोड़े जा सकते हैं।
power tiller use and subsidy पॉवर टिलर सब्सिडी
तस्वीर साभार: imimg

पावर टिलर खरीद पर सब्सिडी (Subsidy On Power Tiller)

अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, छोटे और सीमांत किसानों, महिलाओं और पूर्वोत्तर राज्यों के लाभार्थियों को 8 हॉर्सपावर से कम वाले पावर टीलर पर कुल कीमत की 50 फीसदी सब्सिडी मिलती है। सब्सिडी की अधिकतम राशि 50 हज़ार रुपये है।  8 हॉर्सपावर से ज़्यादा वाले पावर टीलर पर भी 50 फ़ीसदी सब्सिडी का प्रावधान है। इसमें सब्सिडी की अधिकतम राशि की सीमा 75 हज़ार रुपये है।

वहीं अन्य किसानों को 40 फ़ीसदी सब्सिडी मिलती है। 8BHP से कम वाले पावर टीलर पर 40 हज़ार हजार और 8BHP से अधिक वाले पर 60 हज़ार की सब्सिडी दी जाती है। 

power tiller use and subsidy पॉवर टिलर सब्सिडी
तस्वीर साभार: indiamart

पावर टिलर कई तरह के होते हैं

बाज़ार में अलग-अलग हार्स पावर के पावर टिलर मौजूद हैं। 9 हॉर्स पावर तक वाले पावर टिलर छोटे आकार वाले कहलाते हैं और इनका इस्तेमाल छोटे बगीचे या किचन गार्डन में आसानी से किया जा सकता है। 

9 से 14 हॉर्स पावर वाले मीडियम साइज़ के पावर टिलर का इस्तेमाल छोटे खेत में हल्की जुताई व दूसरे कृषि कार्यों में किया जा सकता है।

 20 हार्स पावर तक के बड़े पावरटिलर का उपयोग तकरीबन सभी तरह के कृषि कार्यों के लिए किया जा सकता है।

बाज़ार में इन कंपनियों के पावर टिलर हैं उपलब्ध

होंडा, वीएसटी शक्ति, कुबोटा, केएमडब्लू मेगा, ग्रीव्स कॉटन, मेगा टी कंपनियों के पावर टिलर उपलब्ध हैं। मॉडल के हिसाब से कीमत होती है। 50 हजार से लेकर करीबन दो लाख तक इनकी कीमत रहती है। 

power tiller use and subsidy पॉवर टिलर सब्सिडी
तस्वीर साभार: ICAR

पावर टिलर पर सब्सिडी कहाँ से लें? 

अगर कोई किसान सब्सिडी पर पावर टिलर खरीदना चाहते हैं, तो वो अपने राज्य के कृषि विभाग की वेबासाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके बाद कृषि विभाग जल्द ही आपसे संपर्क करता है। कृषि उपकरण पर सब्सिडी से जुड़ी ज़्यादा जानकारी जानने के लिए आप अपने नज़दीकी कृषि विज्ञान केंद्र से भी संपर्क कर सकते हैं और किसान कॉल सेंटर 1800 180 1551 नंबर ओर कॉल करके विस्तार से जान सकते हैं।

 

ये भी पढ़ें: गर्मियों में गहरी जुताई से कैसे बढ़ेगी फसलों की पैदावार, कृषि वैज्ञानिक डॉ. ख़लील ख़ान के टिप्स

सम्पर्क सूत्र: किसान साथी यदि खेती-किसानी से जुड़ी जानकारी या अनुभव हमारे साथ साझा करना चाहें तो हमें फ़ोन नम्बर 9599273766 पर कॉल करके या kisanofindia.mail@gmail.com पर ईमेल लिखकर या फिर अपनी बात को रिकॉर्ड करके हमें भेज सकते हैं। किसान ऑफ़ इंडिया के ज़रिये हम आपकी बात लोगों तक पहुँचाएँगे, क्योंकि हम मानते हैं कि किसान उन्नत तो देश ख़ुशहाल।

मंडी भाव की जानकारी
 

ये भी पढ़ें:

 
You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.